Sharab : बस एक मिनट में पता कर सकते है की शराब असली है या नकली, ऐसे कर सकते है चेक

0
बस एक मिनट में पता कर सकते है की शराब असली है या नकली

Sharab : बस एक मिनट में पता कर सकते है की शराब असली है या नकली, ऐसे कर सकते है चेक। आज के समय में मार्केट में बहुत सी शराब नकली होती है। जिसे ग्राहकों को कम दाम में बेच दिया जाता है और ग्राहक भी इसे बिना देखे ले लेता है। यह शराब शरीर के लिए नुकसान दायक भी हो सकती है। शराब के शौक़ीन के लिए यह खबर जरूरी है। इस तरह से आप शराब के असली नकली की पहचान कर सकते है।

यह भी पढ़िए – JEEP को चारों खाने चित्त करने आ गई है Volkswagen Tiguan, इस SUV में मिलते है सुपर लग्जरी फीचर्स

बहुत से लोगों को नहीं पता होता है शराब असली है या नकली

अक्सर लोगों को शिकायत रहती है उन्होंने जो व्हिस्की पी है या उन्हें सर्व की गई है वो असली नहीं है. ज्यादातर, जब लोग बार, पब आदि में जाते हैं तो उनकी ये शिकायत ज्यादा हो जाती है. हो सकता है कि कभी आपके साथ भी ऐसा हुआ हो. मगर लोग ये पहचान नहीं पाते हैं कि शराब असली है या नकली. इसका कारण ये भी है कि लोगों को पता ही नहीं होता है कि आखिर किस तरह से असली और नकली व्हिस्की की पहचान की जा सके. आप आसानी से शराब की असली नकली की पहचान कर सकते है।

यह भी पढ़िए – ऑटोसेक्टर में अपना जादुई सिक्का चलाने आ रही है Maruti Alto 800, नए एडवांस फीचर्स से TATA को देंगी करारी शिकस्त

बिल्कुल आसान है असली नकली शराब की पहचान

जैसा की अगर आप वाइन शॉप से व्हिस्की खरीद रहे हैं तो आप कुछ तरीकों से पता कर सकते हैं व्हिस्की असली है या नकली. लेकिन, जैसे कई लोग कहते हैं व्हिस्की को हिलाकर उसके झाग से असली होने का पता लगाया जा सकता है, लेकिन कई लोग इसे गलत मानते हैं.

शराब को सूंघकर भी आसानी से पता कर सकते है

इसके अलावा एक्सपर्ट का मानना है कि शराब को सूंघकर या शराब के टेस्ट से बहुत कम लोग पता लगा पाते हैं, क्योंकि हर ब्रांड और स्लॉट से यह सभी बदल जाते हैं. ऐसे में कोशिश की जाए कि लाइसेंस प्राप्त दुकान से शराब खरीदें.

ऐसे पहचान करे असली और नकली शराब की

आपको शराब खरीदने से पहले इसकी जानकारी अच्छी तरह होना चाहिए की शराब असली है या नकली। इसके लिए सबसे पहले तो आप देखें कि शराब का नाम वो ही है, जो आप खरीदना चाहते हैं. इस नाम को अच्छे से देख लें, क्योंकि कई ब्रांड बोतल की डिजाइन आदि दूसरी कंपनी से कॉपी करते हैं और नाम में हल्का सा बदलाव कर देते हैं. इससे कोई आसानी से इसमें बदलाव नहीं देख सकता है. इसलिए सबसे पहले नाम आदि की जानकारी ले लें. इसके बाद बारकोड का इस्तेमाल करके शराब के असली होने का पता लगा लें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *