जयपुर हाइवे पर धु धु कर जलने लगी Mahindra XUV700, देखे VIDEO, कंपनी ने दिया यह बयान

जयपुर हाइवे पर धु धु कर जलने लगी Mahindra XUV700, देखे VIDEO, कंपनी ने दिया यह बयान

जयपुर हाइवे पर धु धु कर जलने लगी Mahindra XUV700, देखे VIDEO, कंपनी ने दिया यह बयान। Mahindra XUV 700 देश में उपलब्ध उप चुनिंदा एसयूवी गाड़ियों में से एक है जो कि अपने बेहतरीन और एडवांस फीचर्स के लिए जानी जाती हैं. जब से ये एसयूवी बाजार में लॉन्च हुई तब से लगातार सुर्खियों में बनी है. एक बार फिर से ये एसयूवी चर्चा में है लेकिन इस बार कारण इसके फीचर्स और खूबियां नहीं हैं बल्कि ‘आग’ लगने के कारण ये एसयूवी सोशल मीडिया पर चर्चा का केंद्र बनी हुई है. राजस्थान के जयपुर में बीच सड़क चलते हुए अचानक इस एसयूवी में आग लगने का मामला सामने आया है, इसका वीडियो भी ट्वीटर पर तेजी से वायरल हो रहा है. इस घटना के बाद कंपनी ने एक बयान भी जारी किया है.

यह भी पढ़िए – Maruti की बैंड बजाने नए अवतार में आ रही है Nissan Magnite, प्रीमियम फीचर्स से मार्केट में लगा देंगी आग

जयपुर हाईवे पर लगी आग

कार के मालिक कुलदीप ने बताया कि वह Mahindra XUV700 को जयपुर हाईवे पर ड्राइव कर रहे थे, तभी अपने आप कार में आग लग गई. उन्होंने उल्लेख किया कि उनकी XUV700 ने इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर पर ओवरहीटिंग का कोई इंडिकेशन नहीं दिया. उन्हें ओवरहीटिंग का पता तब लगा जब धुआं केबिन में अंदर आने लगा. इसके बाद आग लगने से पहले वह कार से बाहर निकलने में कामयाब रहे.

यह भी पढ़िए – बुवाई के पहले देख ले क्या है इस साल Dap Urea खाद के नए भाव, अब मात्र इतने रूपये में मिलेंगी Dap की बोरी

मालिक ने बताया कि उसकी डीजल XUV700 है और उसमें कोई इलेक्ट्रिकल मॉडिफिकेशन नहीं कराया गया है. उनकी डीजल XUV700 लगभग छह महीने पुरानी है. उन्होंने ट्विटर पर जो वीडियो पोस्ट किए हैं, उसमें XUV700 की हेडलाइट्स और टर्न इंडिकेटर्स ऑन दिखाई दे रहे हैं, जिससे लगता है कि फुल-इलेक्ट्रिकल शॉर्ट की संभावना कम है. इस घटना पर महिंद्रा की ओर से भी बताया आया है.

कंपनी ने दिया बयान

कंपनी ने आधिकारिक बयान जारी कर के कहा,  “महिंद्रा में हम हाल ही में जयपुर नेशनल हाईवे पर महिंद्रा XUV700 से जुड़े मामले को लेकर काफी चिंतित हैं. हमने थर्मल घटना के कारण का पता लगाने के लिए एक जांच शुरू की है. हमारी फील्ड सर्विस टीम ग्राहक के पास पहुंची और एक जांच की गई है. हमारे प्रारंभिक निष्कर्षों से पता चलता है कि फैक्ट्री-फिटेड/मूल वायरिंग के साथ छेड़छाड़ की गई है, ताकि बाजार के बाद के बिजली के सामान को एडजेस्ट किया जा सके, जिससे यह घटना हो सकती है. हम यह सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं कि हमारी एसयूवी उच्चतम सुरक्षा मानकों को पूरा करती हैं. हम उपयोगकर्ताओं को सलाह देते हैं कि वे अपने वाहनों को गैर-अधिकृत स्रोतों से बदलाव न करें या इलेक्ट्रिकल सर्किट में बाहरी भार न जोड़ें. हम अपने ग्राहकों को आश्वस्त करना चाहते हैं कि उनकी सुरक्षा हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed