खाद के भाव में मची उथल पुथल, एक बोरी Urea के नए भाव देख आप भी हो जायेंगे खुश

dap urea rate

खाद के भाव में मची उथल पुथल, एक बोरी Urea के नए भाव देख आप भी हो जायेंगे खुश। खाद किसानों के लिए बहुत ही जरूरी होता है। आज बिना खाद के कोई भी फसल उत्पादन का संभव नहीं है। खाद के दाम से किसानों को राहत मिल रही है क्योंकि सरकार द्वारा सब्सिडी दी जाती है जिससे किसानों को खाद काफी कम दाम में मिल जाते है। आने वाले समय में इसके लिए आपको संकट का सामना करना पड़ सकता है।

यह भी पढ़िए – द ग्रेट खली की पत्नी खूबसूरती के मामले में हुस्न की मलिका Rashmika मंदना को भी देती है मात, तस्वीरें देख फैंस भी हो गए लट्टू

खाद के भाव में मची उथल पुथल, एक बोरी Urea के नए भाव देख आप भी हो जायेंगे खुश

सब्सिडी के साथ खाद के एक बोरी के भाव

सरकार द्वारा सब्सिडी देने से किसानो को काफी कम दाम में खाद मिल जाता है। अगर सरकार सब्सिडी नहीं दे तो किसानों को खाद बहुत ही महंगे दाम में ख़रीदना पड़ता था क्योकि खाद के दाम बिना सब्सिडी के बहुत ही ज्यादा है।

  • Urea यूरिया – 266.50 रुपए प्रति बैग (45 किलोग्राम)
  • DAP डीएपी – 1,350 रुपए प्रति बैग (50 किलोग्राम)
  • NPK एनपीके – 1,470 रुपए प्रति बैग (50 किलोग्राम)
  • MOP एमओपी – 1,700 रुपए प्रति बैग (50 किलोग्राम)

यह भी पढ़िए – ताऊ के ज़माने की CD100 की एंट्री होते ही Yamaha RX100 का होंगा काम तमाम, किलर लुक से जगमगा देंगी ऑटोसेक्टर

बिना सब्सिडी के खाद के भाव

  • Urea यूरिया – 2,450 रुपए प्रति बैग (45 किलोग्राम)
  • DAP डीएपी – 4,073 रुपए प्रति बैग (50 किलोग्राम)
  • NPK एनपीके – 3,291 रुपए प्रति बैग (50 किलोग्राम)
  • MOP एमओपी – 2,654 रुपए प्रति बैग (50 किलोग्राम)

खाद के भाव में मची उथल पुथल, एक बोरी Urea के नए भाव देख आप भी हो जायेंगे खुश

खाद फसल के उत्पादन के लिए है जरूरी

किसान के लिए खाद बहुत ही जरूरी है क्योकि इस समय फसल के अच्छे उत्पादन के लिए खाद बहुत ही जरूरी हो गया है। बिना खाद के किसान फसल का अच्छा उत्पादन नहीं ले सकता है। देश में रासायनिक खादों में सबसे ज्यादा यूरिया का उपयोग किया जाता है। वर्ष 2020–21 के अनुसार देश में यूरिया की 350.51 लाख टन, डीएपी 119.18 लाख टन, एनपीके 125.82 लाख टन तथा एमओपी 34.32 लाख टन की आवश्यकता थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed