JDU के पूर्व अध्यक्ष Sharad Yadav का 75 साल में हुआ निधन, राजनीति जगत में शोक की लहर

0
Sharad Yadav

Sharad Yadav : देश की राजनीति को लेकर एक बहुत ही बुरी खबर सामने आई है. देश के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव का निधन हो गया है. गौरतलब है कि शरद यादव का एमपी से बहुत ही गहरा नाता था. उनका जन्म मध्यप्रदेश में ही हुआ था और उनकी राजनीति करियर की शुरुआत जबलपुर से ही हुई थी.बता दें कि समाजवादी नेता शरद यादव लंबे समय से बीमार थे. शरद यादव का जन्म 1 जुलाई 1947 को नर्मदापुरम, मध्य प्रदेश में हुआ था. वे तीन राज्यों से लोक सभा के लिए चुने गए. केंद्र में मंत्री रहे, जेडीयू के अध्यक्ष और एनडीए के संयोजक भी

एमपी में हुआ था जन्म

मध्य प्रदेश के होशंगाबाद जिले में जन्मे शरद यादव ने जबलपुर के रॉबर्टसन कॉलेज से विज्ञान में डिग्री हासिल कीउन्होंने इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग भी किया था. शरद यादव की शादी 15 फरवरी 1989 को रेखा यादव से हुई थी. शरद यादव के एक बेटा और एक बेटी है. उनकी बेटी सुभाषिनी राजा राव 2020 के बिहार विधान सभा चुनाव से ठीक पहले भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस में शामिल हुईं थीं.वहीं शरद यादव के बेटे शांतनु बुंदेला लंदन यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएट हैं.

यह भी पढ़िए – राशन कार्डधारियों के लिए बड़ी खुशखबरी केंद्र सरकार Free Ration को लेकर ले लिया यह बड़ा फैसला, हर महीने इतना मिलेगा एक्स्ट्रा फ्री राशन

MP से की थी अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत

उनका अधिकांश राजनीतिक जीवन बिहार में रहा से है. हालांकि शरद यादव ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत मध्य प्रदेश से ही की थी. मध्य प्रदेश में एक छात्र नेता के रूप में उन्होंने राजनीति की पेचीदगियों को समझा.1974 में जेपी आंदोलन अपने चरम पर था और उसी साल जय प्रकाश नारायण ने उन्हें जबलपुर के उपचुनाव के लिए उम्मीदवार बनाया था. जिसके बाद वह पहली बार दिसंबर में उपचुनाव जीतकर संसद पहुंचे थे. बता दें कि 1977 में एक बार फिर यादव शरद जबलपुर क्षेत्र से सांसद का चुनाव जीते थे.

यह भी पढ़िए – New Maruti Suzuki Eeco : मारुती की यह 7 सीटर Eeco कार अपने नए अवतार और दमदार माइलेज से जीत लेगी सबका दिल, बोलेरो का करेंगी सूपड़ा साफ़

3 राज्यों से चुनाव जीता

1979 में जनता पार्टी के विभाजन के बाद वे चरण सिंह गुट के साथ चले गए. MP के बाद शरद यादव ने यूपी से भी चुनाव जीता था. वह जनता दल के सदस्य के रूप में वर्ष 1989 में JDU लोकसभा क्षेत्र से चुने गए थे. इसके साथ ही शरद यादव बिहार की मधेपुरा लोकसभा सीट से चार बार 1991, 1996, 1999 और 2009 में चुनाव जीते.

इस प्रकार रहा शरद यादव जी का राजनीतिक करियर

  • 1974 जबलपुर निर्वाचन क्षेत्र से सांसद 
  • 1977  जबलपुर निर्वाचन क्षेत्र से सांसद दूसरा कार्यकाल
  • 1986 राज्यसभा के लिए निर्वाचित
  • 1989 – बदायूं निर्वाचन क्षेत्र से सांसद (तीसरा कार्यकाल)
  • 1989-90 केंद्रीय कैबिनेट मंत्री, कपड़ा और खाद्य प्रसंस्करण उद्योग
  • 1991 – मधेपुरा निर्वाचन क्षेत्र से सांसद (चौथा कार्यकाल)
  • 1995 कार्यकारी अध्यक्ष, जनता दल
  • 1996 – मधेपुरा निर्वाचन क्षेत्र से  सांसद (पांचवां कार्यकाल)
  • 1997 अध्यक्ष, जनता दल
  • 1999 – 2004 मधेपुरा निर्वाचन क्षेत्र से सांसद (छठा कार्यकाल) 
  • 13 अक्टूबर 1999 – 31 अगस्त 2001 केंद्रीय कैबिनेट मंत्री, नागरिक उड्डयन
  • 1 सितंबर 2001 – 30 जून 2002 केंद्रीय कैबिनेट मंत्री, श्रम
  • 1 जुलाई 2002 – 15 मई 2004 केंद्रीय कैबिनेट मंत्री, उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्री
  • जुलाई 2004 राज्य सभा (दूसरा कार्यकाल)
  • 2009 – 2014 मधेपुरा निर्वाचन क्षेत्र से सांसद (सातवां कार्यकाल) 
  • 2014 राज्य सभा के लिए निर्वाचित (तीसरा कार्यकाल)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed