सरकार ने पेट्रोल डीजल को लेकर दी बड़ी खबर, देखिये क्या है अपडेट

0
petrol

सरकार ने पेट्रोल डीजल को लेकर दी बड़ी खबर, देखिये क्या है अपडेट। काफी समय से पेट्रोल डीजल के भाव में कमी देखने नहीं मिल रही है। पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार स्थिरता देखने को मिल रही है. इसके बीच में पेट्रोल की मांग में गिरावट देखने को मिल रही है. पेट्रोल की कीमतों में लंबे समय से कोई भी गिरावट देखने को नहीं मिली है, जिसका असर मांग पर देखने को मिला है. देश में ईंधन की मांग में मार्च के पहले पखवाड़े में गिरावट आयी है. इससे पहले फरवरी में पेट्रोल-डीजल की मांग में तेज उछाल आया था.

यह भी पढ़िए – Royal Enfield ने पेश की अपनी दो धाकड़ बाइक, दमदार पॉवरफुल इंजन और कातिलाना लुक से जीत लेंगी सबका दिल

सरकार ने पेट्रोल डीजल को लेकर दी बड़ी खबर, देखिये क्या है अपडेट

तापमान में बदलाव से पेट्रोल डीजल की मांग पर पड़ा असर

तापमान के बदलाव से मांग में देखने मिल रहा है बड़ा अंतर। गुरुवार को आए उद्योग के शुरुआती आंकड़ों से यह जानकारी मिली है. फरवरी में कृषि क्षेत्र में मांग बढ़ने और परिवहन में तेजी आने से ईंधन की बिक्री उच्चस्तर पर पहुंच गई थी, लेकिन मार्च में तापमान बढ़ने से इसमें नरमी आई है.

यह भी पढ़िए – गेहूँ के भाव में आज आई भारी गिरावट, देखिये आज क्या है गेहूँ के भाव

पेट्रोल डीजल की बिक्री का जारी हुआ आकड़ा

जैसा की आपको बता दे की मार्च के पहले पखवाड़े में पेट्रोल की बिक्री सालाना आधार पर 1.4 फीसदी घटकर 12.2 लाख टन रह गई. मासिक आधार पर बिक्री 0.5 फीसदी गिरी है. देश में सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाले ईंधन डीजल की बिक्री 1-15 मार्च के दौरान सालाना आधार पर करीब 10.2 फीसदी घटकर 31.8 लाख टन रह गई. एक साल पहले समान अवधि में यह 35.4 लाख टन थी. मासिक आधार पर मांग 4.6 फीसदी घटी है.

पेट्रोल की माँग में आया उछाल

फरवरी के पहले पखवाड़े में पेट्रोल की खपत सालाना आधार पर करीब 18 फीसदी, डीजल की मांग करीब 25 फीसदी बढ़ी है. हालांकि, मार्च के पहले पखवाड़े में पेट्रोल की मांग कोविड प्रभावित मार्च, 2021 के पहले पखवाड़े की तुलना में 16.4 फीसदी और 2020 की समान अवधि की तुलना में करीब 23 फीसदी अधिक है.

सरकार ने पेट्रोल डीजल को लेकर दी बड़ी खबर, देखिये क्या है अपडेट

डीजल की मांग में भी देखने मिला इजाफा

इसके अलावा डीजल की मांग मार्च, 2021 के पहले पखवाड़े के मुकाबले 11.5 फीसदी और 2020 की समान अवधि की तुलना में 20.2 फीसदी अधिक है. कोविड-19 संबंधी पाबंदियों के खत्म होने के साथ देश में ईंधन की मांग लगातार बढ़ रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed