गेहूँ कटाई की यह सस्ती मशीन करेंगी आपके पैसे और समय की बचत, सरकार दे रही है मशीन खरीदने पर सब्सिडी

0

गेहूँ कटाई की यह सस्ती मशीन करेंगी आपके पैसे और समय की बचत, सरकार दे रही है मशीन खरीदने पर सब्सिडी। हमारे देश में खेती किसानी के लिए आधुनिक यंत्रो का बखूबी इस्तेमाल किया जाने लगा है | जिसके माध्यम से हम ज्यादा से ज्यादा फसल उगाते है, और फिर उसकी कटाई करते है | फसल की कटाई करना भी एक बड़ा काम होता है | इसके लिए अधिक समय और मेहनत लगती है | किन्तु फसल की कटाई के लिए रीपर बाइंडर मशीन का इस्तेमाल कर इस काम को आसानी से किया जा सकता है | यह एक ऐसी मशीन है, जिसे फसल की कटाई के लिए तैयार किया गया है।

यह भी पढ़िए – Hero Splender XTEC ने अपने किलर लुक और दमदार माइलेज से मार्केट में जमाया अपना रंग, स्पीड में भी no.1

समय पर होंगी गेहूँ कटाई

अब किसानों को मजदूरों पर आश्रित रहने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि आज कई मशीनों ने कृषि के कार्य को आसान बना दिया है। जिन कामों को करने में पहले कई दिन लग जाते थे, वो काम अब कुछ घंटों में हो जाते हैं। पहले फसलों की कटाई में लंबा समय और श्रमिक श्रम लगता था लेकिन अब फसल कटाई मशीनों ने इस काम को और आसान बना दिया है। रीपर बाइंडर मशीन को फसल की कटाई के लिए बनाया गया है। यह मशीन फसल की कटाई के साथ-साथ रस्सियों से उनका बंडल भी बनाती है। इस यंत्र की सहायता से खेत में 5 से 7 सेमी ऊपर फसल की कटाई आसानी से की जा सकती है। इस यंत्र के कारण भूसे का नुकसान नहीं होता है। इस मशीन से 85 सेमी से 110 सेमी ऊंचाई वाली गेहूँ, जौ, धान, जेई और अन्य फसलों की आसानी से कटाई कर बंडल बनाया जाता है।

यह भी पढ़िए – राशन कार्डधारकों के लिए बुरी खबर सरकार ने इन लोगों के रद्द किए राशन कार्ड, देखिये किन लोगों के रद्द हुए राशन कार्ड

रीपर बाडंडर मशीन का कार्य

रीपर बाडंडर मशीन फसल की कटाई के लिए बनाई गई है। इसकी स्पीड इतनी तेज है कि यह एक घंटे में एक एकड़ जमीन की फसल काट सकती है। रीपर बाइंडर मशीन के कटरबार की चौड़ाई करीब 1.2 मीटर होती है। इसके आगे बढ़ने की गति लगभग 1.1 से 2.2 मीटर प्रति सेकंड होती है। इसकी कार्यक्षमता 0.4 हेक्टेयर प्रति घंटा तक होती है।

यह एक घंटे में करीब 1.2 लीटर डीजल की खपत करती है। इस मशीन की सीट के नीचे एक नुमेटिक पहिया लगा होता है, जिसकी मदद से मशीन को मोड़ा जाता है। बाजार में इस मशीन की कीमत करीब 3 लाख रुपए है। लेकिन राजस्थान, मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, गुजरात आदि राज्यों के किसान रिपर बाडंडर मशीन 50 प्रतिशत सब्सिडी पर खरीद सकते हैं। इतना ही नहीं इन राज्यों के किसानों को इस मशीन की खरीद पर शासन मान्य सब्सिडी दी जाती है।

रीपर बाइंडर मशीन की कीमत

बाजार में कई प्रकार की रीपर बाइंडर मशीन मिलती है। ऑटोमैटिक रीपर बाइंडर मशीन की कीमत 50 हजार रुपए से लेकर 2.5 लाख रुपए तक होती है। जबकि ट्रैक्टर से चलने वाली रीपर की कीमत 80 हजार से 2 लाख रुपए तक है। 


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed