Kheti News : इस समय में करे गेहूं की बुवाई आपको मिलेंगा तगड़ा उत्पादन, फसल को भी नहीं होंगा कोई नुकसान

0
इस समय में करे गेहूं की बुवाई आपको मिलेंगा तगड़ा उत्पादन

Kheti News : कई बार बिन मौसम बारिश एवं अत्यधिक गर्मी के कारण गेहूं की फसल में बहुत अधिक प्रभाव पड़ता है जो कि गेहूं की फसल में काफी ज्यादा दिक्कत पैदा करती हैं इसमें भारतीय प्रौद्योगिकी अनुसंधान के अध्यक्ष किसान भाइयों के लिए कुछ ऐसे टिप्स बताए हैं जिनमें आपकी फसल में मौसम की अनुकूलता का प्रभाव उतना अधिक नहीं पड़ेगा और आप अपनी फसल को मौसम की अनुकूलता के प्रभाव से बचा सकते हैं।

यह भी पढ़िए – शानदार कैमरा क्वालिटी से OPPO और Vivo को ललकारने आ गया Realme का शानदार स्मार्टफोन, iPhone जैसे लुक से बना रहा दीवाना

Tip no 1

अगर आप गेहूं के फसल की खेती करते हैं तो आप इस समस्या से अच्छी तरह वाकिफ होंगे की मौसम के खराब होने की वजह से गेहूं की फसल हमेशा गिर जाती है जिस प्रकार किसान भाइयों को बहुत अधिक नुकसान होता है इसे कैसे बचाना है यह सारी बातें आपको बताते हैं।

Tip no 2

गेहूं की फसल की हमेशा सीधी बुवाई करनी चाहिए यानी कि जिस खेत में धान की बुवाई करी थी उसी में तुरंत आपको गेहूं की बुवाई कर देनी चाहिए धान की फसल के बचे हुए अवशेष मिट्टी में कुछ ऐसी आकृति छोड़ देते हैं जिसकी वजह से पानी मिट्टी में रुकता नहीं है एवं सीधे मिट्टी से निकल जाता है ऐसा करने से फसल में मजबूती भी आएगी और फसल के नुकसान में कमी भी आएगी।

यह भी पढ़िए – Maruti की इस कार ने किलर लुक से मार्केट में मचाई खलबली, फीचर्स के साथ साथ इंजन भी है काफी लाजवाब

Tip no 3

आप जिस भी किस्म की बुवाई कर रहे हैं आपको उसे किस्म की फुटाई के बारे में जानकारी होनी चाहिए कि किस फसल में कितनी फुटाई है यानी कि जिस फसल में अधिक फूटी है उसकी उतनी ही काम बीजों की मात्रा की बुवाई कीजिए यह फसल की मजबूती को बढ़ाएगी साथी साथ किसान भाइयों का अधिक नुकसान को भी बचाएगी।

Tip no 4

यदि आप गेहूं की बुवाई जल्दी कर सकते हैं तो देर ना करिए क्योंकि मार्च अप्रैल में आप सबको ज्ञात है तापमान एकदम से बढ़ता है उसे समय फसल में काफी तरीके के नुकसान हो सकते हैं इसलिए यदि आप जल्दी बुवाई कर सकते हैं तो कर लीजिए यह आपकी फसल की मजबूती को बढ़ाएगा और होने वाले नुकसान को भी काम करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed