बकरी पालन का बिज़नेस कर देंगा मालामाल, सरकार दे रही है 75% सब्सिडी

0
bakari palan news hindi

बकरी पालन का बिज़नेस कर देंगा मालामाल, सरकार दे रही है 75% सब्सिडी। आज किसान भी केवल खेती पर निर्भर नहीं रहते है उसके अलावा वह अन्य दूसरा कोई काम भी करते है जिससे उसकी अच्छी कमाई हो सके। आज हम आपको बकरी पालन की योजना के बारे में बताने जा रहे है। बकरियों को गरीब की गाय भी कहते हैं, जो लोग गाय-भैंस जैसे बड़े दुधारु पशु पालने में सक्षम नहीं है, वो बकरी पालन करके अपनी आजीविका चला रहे हैं.

यह भी पढ़िए – रतन टाटा की चहेती कार Tata Nano आ रही है नए अवतार में, मार्केट में आते ही Alto का होंगा काम तमाम

आज मार्केट में है बकरो की बहुत ज्यादा डिमांड

आज आप बकरी पालनकर अच्छी खासी कमाई कर सकते है। यह ऐसा बिज़नेस है जिसकी आज मार्केट में बहुत ज्यादा डिमांड है। बाजार में बकरियों के दूध और मीट की काफी डिमांड रहती है. इसके दूध में कई पोषक तत्व और औषधीय गुण भी होते हैं. सर्दियों के समय बुखार-ताप, सर्दी-जुकाम और डेंगू बीमारी होने पर बकरी के दूध का सेवन करने की सलाह दी जाती है. पिछले कुछ सालों में बकरी फार्म का यह बिजनेस भी फायदे का सौदा बनकर सामने आया है. आज बकरी पालन को बढ़ावा देने के लिए केंद्र और राज्य सरकारें कई योजनाएं चला रही हैं.

यह भी पढ़िए – सरिया सीमेंट के भाव में अचानक हुआ बड़ा बदलाव, घर बनाने वालों के लिए सुनहरा अवसर

सरकार दे रही है 75% सब्सिडी

सरकार द्वारा भी बकरी पालन के लिए कई योजनाएँ चलाई जा रही है और सरकार द्वारा प्रशिक्षण भी दिया जाता है। राष्ट्रीय पशुधन मिशन, पशु किसान क्रेडिट कार्ड और पशुधन बीमा योजना के तहत बकरी पालन के लिए आर्थिक और तकनीकी मदद दी जाती है. राज्य सरकारें भी अपने लेवल पर तमाम योजनाएं चलाती हैं. मध्य प्रदेश सरकार ने भी देसी नस्ल की बकरियों में सुधार और विस्तार के लिए ‘नर बकरा प्रदाय योजना’ चलाई है, जिसके तहत बकरी पालकों को 75 प्रतिशत अनुदान दिया जा रहा है. इससे बकरी पालकों को अपना बिजनेस बढ़ाने में भी खास मदद मिलेगी।

देशी नस्ल देंगी फायदा

यह बिज़नेस आपके लिए फायदे का सौदा हो सकता है। मध्य प्रदेश में अब देसी नस्ल की बकरी पालन के लिए अनुदानित दरों पर जमनापारी, बारबरी और सिरोही नस्ल का बकरा दिया जा रहा है. यदि आप भी बकरी पालन करते हैं तो 25 प्रतिशत पैसा देकर देसी बकरा खरीद सकते हैं. नर बकरा प्रदाय योजना के तहत मध्य प्रदेश सरकार की तरफ से 75 प्रतिशत अनुदान दिया जाएगा.

बेरोजगारों के लिए फायदे का बिज़नेस

आज बकरी पालन का बिज़नेस फायदे का बिज़नेस है क्योकि आज इसकी मार्केट में बहुत ज्यादा डिमांड है। इस के तहत गरीब, छोटे और भूमिहीन किसान-पशुपालकों और बेरोजगारों को जोड़ा गया है. नियमों के अनुसार, जो लोग पहले से ही बकरी पालन करते हैं, उन्हें ही देसी नस्ल के बकरे की खरीद पर अनुदान दिया जाना है, जिससे बकरी फार्म में बकरियों का कुनबा बढ़ाया जा सके. इससे पशुपालकों की आय बढ़ाने में भी खास मदद मिलेगी.

इस जगह आवेदन कर ले सकते है योजना का लाभ

आपको अगर इस योजना की जानकारी चाहिए तो आप ऑनलाइन भी सब जानकारी देख सकते हो। नर बकरा प्रदाय योजना में आवेदन करने पर सिर्फ मध्य प्रदेश के निवासी किसान या पशुपालकों को ही 75 प्रतिशत सब्सिडी दी जाएगी. इस स्कीम का लाभ लेने के लिए अपने जिले के नजदीकी पशु चिकित्सा अधिकारी, पशु औषधालय के प्रभारी/ उपसंचालक और पशु चिकित्सा कार्यालय में संपर्क कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed