NABARD Yojana 2023 : सरकार की इस योजना के तहत Dairy Farming के लिए मिलेंगी 50% सब्सिडी, कम खर्चे में लाखो की कमाई

0
dairy farm

NABARD Yojana 2023 : केंद्र सरकार के अंतर्गत देश के नागरिकों को रोजगार दिलाने के उद्देश्य से नाबार्ड स्कीम को शुरू किया गया है। केंद्र सरकार की इस स्कीम के अंतर्गत डेयरी फार्मिंग को सुव्यवस्थित करने के लिए देश के ग्रामीण क्षेत्रों में नागरिकों को कम ब्याज दरों में ऋण उपलब्ध करवाया जायेगा। पशुपालन विभाग से सभी जिलों में नाबार्ड योजना के अंतर्गत आधुनिक डेयरी स्थापित की जाएगी। बेरोजगार युवकों को यह स्कीम स्वयं का स्वरोजगार शुरू करने के लिए एक अवसर प्रदान करेगी। NABARD Yojana 2023 में केंद्र सरकार के अंतर्गत मत्स्य पालन विभाग को भी शामिल किया गया है।

नाबार्ड योजना के लिए ऐसे करे आवेदन

नाबार्ड योजना के अंतर्गत योग्य व्यक्ति जो इस योजना में लाभ उठा पाएंगे ऐसे पात्र जो इस योजना मैं कुछ करना चाहते हैं नाबार्ड डेयरी फार्मिंग योजना आवेदन हेतु पात्रता क्या है तथा नाबार्ड फार्मिंग योजना क्या है डेयरी फार्मिंग योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करें। इस योजना के अंतर्गत लोगों को स्वरोजगार से जुड़ने का अवसर मिल पाएगा इस योजना के द्वारा इच्छुक व्यक्ति इस योजना का लाभ ले सकते हैं नाबार्ड योजना के द्वारा दूध डेरीदूध डेयरी खोलने हेतु सरकार बैंक के द्वारा कम ब्याज पर पैसा दिया जाएगा तथा सरकार द्वारा सब्सिडी पर भी काफी राहत मिली है नाबार्ड योजना का लाभ उन्हीं नागरिकों को मिलेगा जो इस योजना के लिए पात्र होंगे इस प्रक्रिया के द्वारा ऑनलाइन एवं ऑफलाइन दोनों तरफ से आवेदन कर पाएंगे।

यह भी पढ़िए – KTM का बेडा पार करने आ रही है नई Bajaj Pulsar NS200, नए लुक से जीत लेंगी नव युवाओ का दिल

डेयरी फार्मिंग में मिलेंगी सहायता

जैसे की हम सभी जानते है कि देश के ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले बहुत नागरिक डेयरी फार्मिंग के तहत आजीविका चलाते हैं। डेयरी फार्मिंग बहुत अव्यवस्थित है, जिस वजह से नागरिको को ज्यादा फायदा नहीं हो पाता। Nabard Scheme 2023 के अंतगर्त डेरी के उद्योग को व्यवस्थित किया जाएगा और उसे सुचारू रूप से चलाया जाएगा। इस योजना के अंतगर्त स्व-रोजगार पैदा करना और डेयरी क्षेत्र के लिए सुविधाएं उपलब्ध करना। डेयरी फार्मिंग योजना का मुख्य उद्देश्य है नागरिको को बिना ब्याज के लोन प्रदान करना जिससे वह अपना व्यवसाय आसानी से चला सकें। जिसका मुख्य उदेश्य दूध के उत्पादन को बढ़ावा देना है जिससे हमारे देश से बेरोजगारी कम हो सके। सरकार द्वारा किसानों की आय में वृद्धि के लिए बड़े पैमाने पर काम किया जा रहा है।

यह भी पढ़िए – लम्बे अरसे के बाद सरिया सीमेंट के भाव में हुआ बड़ा बदलाव, देखिये क्या है आपके शहर में आज का सरिया का भाव

नाबार्ड योजना के लिए आवश्यक शर्ते

  • एक परिवार से अनेक व्यक्ति इस योजना का लाभ उठा सकते हैं तथा आवेदन कर सकते हैं.
  • इस योजना के अंतर्गत अगर एक परिवार से दो व्यक्ति इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो दूध डेयरी खोलने के दौरान उन दोनों के बीच में 500 मीटर दूरी का फैसला होना चाहिए।
  • नाबार्ड योजना Nabard Dairy Farming के अंतर्गत एक बार हि आवेदन करने के पात्र होंगे।

नाबार्ड योजना के लिए सब्सिडी

  • डेयरी उद्यमिता विकास योजना के अंतगर्त दुग्ध उत्पाद (मिल्‍क प्रोडक्‍ट) बनाने की यूनिट आरम्भ करने के लिए भी सब्सिडी प्रदान की जाती है।
  • Nabard Scheme 2023 के अंतगर्त आप दुग्ध उत्पाद की प्रोसेसिंग के लिए उपकरण खरीद सकते हैं।
  • यदि आप इस तरह की मशीन खरीदते हैं और उसकी कीमत 13.20 लाख रुपये आती है तो आपको इस पर 25 फीसदी (3.30 लाख रुपये) की कैपिटल सब्सिडी मिल सकती है।
  • यदि आप एससी/एसटी कैटेगरी से आते हैं तो आपको इसके लिए 4.40 लाख रुपये की सब्सिडी मिल सकती है।
  • नाबार्ड के डीडीएम ने कहा कि इस योजना में, लोन राशि बैंक द्वारा अनुमोदित की जाएगी और 25% नागरिको द्वारा जाएगी। इस योजना से लाभ लेने के लिए रुचि रखने वाले नागरिक सीधे बैंक से संपर्क करेंगे ।
  • अगर आप पांच गायों के द्वारा डेयरी आरम्भ करना चाहते हैं तो, आपको उनकी लागत का सबूत देना होगा।जिसके तहत सरकार 50% सब्सिडी देगी। किसानों को 50% अलग-अलग किस्तों में बैंक को भुगतान करना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed