Tirupati Temple : भारत के विश्व प्रशिद्ध बालाजी मंदिर की संपत्ति सुन आप भी रह जायेंगे दंग, देखिये कितनी है संपत्ति

0
Tirupati Temple

Tirupati Temple : आंध्र प्रदेश में स्थित तिरुपति के विश्व प्रसिद्ध मंदिर भगवान वेंकटेश्वर मंदिर ने पहली बार अपनी संपत्ति का खुलासा किया है। इस खुलासे के मुताबिक तिरुपति मंदिर की कुल संपत्ति 2.5 लाख करोड़ रुपये यानि 30 अरब डॉलर से ज्यादा की है. एक अनुमान के दृष्टिकोण से देखा जाए तो यह संपत्ति भारत की कई बड़ी कंपनियों की कुल नेट वर्थ संपत्ति से भी अधिक है।

विप्रो, नेस्ले और ओएनजीसी से भी अमीर है मंदिर

भगवान तिरुपति में स्थित यह मंदिर संपत्ति के मामले में भारत की कई बड़ी कंपनियों से भी समृद्ध है। अगर गिना जाए तो यह संपत्ति आईटी कंपनी विप्रो, फूड एंड बेवरेज कंपनी नेस्ले और सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियों ओएनजीसी (ओएनजीसी) और इंडियन ऑयल (आईओसी) के मार्केट कैप से ज्यादा है।

नगद इतने हजार करोड़ और इतने टन सोना

भगवान वेंकटेश्वर को समर्पित तिरुपति मंदिर के प्रबंधक तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम ने 1933 में अपनी स्थापना के बाद पहली बार अपनी संपत्ति की घोषणा की है। तिरुपति मंदिर की संपत्ति में बैंकों में जमा 10.25 टन सोना, 2.5 टन सोने के आभूषण शामिल हैं। बैंकों में जमा 16,000 करोड़ रुपये और देश भर में स्थित 960 संपत्तियां। अगर इन सभी का कुल हिसाब लगाया जाए तो यह कुल मिलाकर लगभग 2.5 लाख करोड़ रुपये बैठता है।

मंदिर के पीछे भी हैं ये सारी कंपनियां

स्टॉक एक्सचेंज के आंकड़ों के मुताबिक, मौजूदा ट्रेंडिंग प्राइस पर तिरुपति मंदिर की नेटवर्थ कई ब्लूचिप भारतीय कंपनियों से ज्यादा है। स्विस बहुराष्ट्रीय कंपनी Nslé की भारतीय इकाई का मार्केट कैप 1.96 लाख करोड़ रुपये है। वहीं, ओएनजीसी और आईओसी का मार्केट कैप भी मंदिर के भरोसे से कम है। एनटीपीसी का मार्केट कैप भी इस मंदिर की संपत्ति से कम है। इसके अलावा महिंद्रा एंड महिंद्रा, टाटा मोटर्स और दुनिया की सबसे बड़ी कोयला उत्पादक कंपनी कोल इंडिया लिमिटेड, खनन कंपनी वेदांता, रियल एस्टेट कंपनी डीएलएफ और कई अन्य कंपनियां भी इस सूची में शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed